100 years of Vinoba’s Arrival in Wai (Satara)
October 27, 2016
Swaraj and Lokniti
December 28, 2016

Satya ke Prayog

जिन पुस्तकों ने संसार में अधिक ख्याति प्राप्त की है, उनमें गांधीजी की ‘आत्म-कथा’ का प्रमुख स्थान है। यह पुस्तक उपयोगी और इतनी लोकप्रिय हुई है कि विश्व की शायद ही कोई महत्त्वपूर्ण भाषा हो, जिसमें यह रचना प्रकाशित न हुई हो। गांधीजी के प्रयोग और उनके विचार मानव-जीवन को उदात्त बनानेवाले हैं। इसकी उपयोगिता सार्वकालिक और सार्वदेशिक है।
Pages: 416
Size: Demy
ISBN: 9788192275505

Buy Now